top of page
Search

Focus on One Thing at a Time in Hindi | क्या आपके एक से ज़्यादा Goals हैं? | Goals motivational blog

Focus on One Thing at a Time in Hindi | क्या आपके एक से ज़्यादा Goals हैं? | Goals motivational blog #motivationalblogs #focus #focusongoal


हम अपनी life में बहुत कुछ हासिल करना चाहते हैं, ओर इनके लिए बहुत सारी चीज़ें करने के बारे में सोचते हैं, जिनकी बजह से हमारा कभी एक ही goal नहीं होता, हम multiple goals set करके रखतें है, जिसमें हमारी सारी expectations आ जाती हैं।

लेकिन ऐसा करने से हमारे अंदर एक confusion create होता हैं की इतने सारे goals के लिए शरूवाती काम किस तरह से करें। क्या करें जो हमें उन सभी चीज़ों को हासिल करना आसान बना सकें जो हम चाहते हैं।


उनके लिए आप सबसे पहले एक काम कर सकतें है, जो है, एक time में एक ही चीज़ पर अपना focus लगाना। भले ही आपके बहुत सारे goals हो लेकिन आपको इनमें से सबसे पहले कोई भी ही goal को choose करके उसी पर अपना सारा attention देना है।


अगर एक practical example के ज़रिये समझे तो अपने दोनों हाथो में एक-एक Pen लें और दोनों के बिच 25cm या 30cm जितना अंतर रखके अपने सामने की और करें, फिर एक साथ दोनों पर focus लगाने की कोशिश करें। क्या focus हो रहा हैं? Of course जवाब होगा नहीं! दोनों जगह focus लगाने के चक्कर में या तो आप अपने दोनों हाथों में रहे Pen में से किसी पर भी focus नहीं रख पाएंगे या तो आप एक बार में दोनों में से किसी एक Pen पर ही focus रख पाएंगे।


अब, एक और example लेते हैं, Just imagine! आप एक सफर पर हैं, जहां आपको बहुत सारी जगहों पर जाना हैं, और आपके सामने हर एक जगह पर जाने के लिए सब का एक-एक particular रास्ता हैं। अब आप एक बार सोचें कि क्या आप एक साथ एक ही समय में सभी रास्तों पर चल पाएंगे? जवाब होगा नहीं! क्योंकि एक particular time में हम एक ही रास्ते पर चल सकते हैं, एक साथ दोनों रास्तों पर नहीं। और यही सच्चाई हैं, चाहे हम इसे accept करें या न करें।


तो अब इन सब में से पहले आप क्या करेंगे? पहले किसी एक रास्ते को choose कर किसी एक जगह पर जाएंगे। फिर जब आप वहां पहुंच जाएंगे, उसके बाद दूसरे रस्ते को choose करके आप किसी दूसरी जगह यानि अपने किसी दूसरे destination पर जाएंगे, फिर आप वहां से तीसरा रास्ता choose करके तीसरी जगह पे, फिर उसी हिसाब से चौथा, पांचवां, छट्ठा जितने भी आपके destinations हैं उन सब जगहों पर एक-एक करके पहुंच पाएंगे।


Same इसी तरह का fact हमारे goals पर भी लागु होता हैं। चाहे तो आप आज़माके देख सकतें हैं, कि आप एक साथ सभी goals के लिए सारे काम करने जाएंगे तो क्या हाल हो सकता हैं! आप विचलित हो जाएंगे सभी goals की अलग-अलग things में और अलग-अलग work patterns में। नतीजन, आपके हाथ में कुछ नहीं आ पाएगा और आप थके और फाटे हाल के साथ खुदको हरा हुआ पाएंगे।


जितने भी लोग अपने काम में fail होते हैं, उन सभी लोगों में major यही issue पाया जाता हैं। इसलिए अगर आप किसी एक time पर सिर्फ़ किसी एक particular goal पर काम करंगे तो बड़ी आसानी से जितना हो सके उतना जल्दी आप अपने उस एक goal को हासिल करने में कामियाब हो पाएंगे। और जब यह हो जाए उसके बाद अपने किसी दूसरे particular goal पर काम करना शरू करें, और जब यह भी हसील हो जाएं उसके बाद तीसरा, फिर चौथा, फिर पांचवा... इस तरह से अपने सारे goals पर काम करें।


फिर, जब आपका final goal आप हासिल करेंगे तब आप पाएंगे की अपने अपनी life में आप जो चाहते थे वह सब कुछ आप वाकही में कर पाएं हैं, यानि अपने अपनी life को बिलकुल ऐसे जिया जैसा आप चाहते थे या अभी भी चाहते हैं। As a result I guaranteed You, आपकी life के लिए आपके अंदर without any guilt एक गहरा satisfaction होगा!


"There is only one way to achieve all the goals, to focus only on one goal at a time."


149 views0 comments

Commentaires


bottom of page