top of page
Search

10 Lines on Importance of Time in Hindi | Time Motivation in Hindi | समय का महत्व। | Value of Time

10 Lines on Importance of Time in Hindi | Time Motivation in Hindi | समय का महत्व। | Value of Time in Life #motivationalblogs #time #timemotivationalblog


जीवन में जितना संघर्ष और पैसा ज़रूरी है उससे कहीं ज़्यादा ज़रूरी है Time(समय)(वक्त)।

अगर हमारे पास time ही नहीं होगा तो हम हमारे goal तक कभी नहीं पहुंच पाएंगे। इसलिए हमें अपना हर काम time to time करते रहना चाहिए। दोस्तों, यह life है, यहाँ समयानुसार उतार-चढ़ाव आना लाजमी है। लेकिन वह हरेक उतार-चढ़ाव हमें हम कुछ न कुछ सीखा जाते है। लेकिन उन सब में एक चीज़ ऐसी है जो सिखाए नहीं सीखी जाती, वह अपने आप आ सकती है अगर हम चाहे तो, और वह है, एक दूसरे के प्रति अपना प्यार। बाकि तो वक्त सब कुछ सीखा देता है।


अगर हम वक्त की कदर नहीं करेंगे, तो वक्त भी हमारी कदर कभी नहीं करेगा। और ज्यादातर मामलों में यही तो होता है! जब हमारे पास time होता है तब हम कुछ करते नहीं, क्योंकि तब हमारे पास सही समझ नहीं होती जिससे हम वक्त को और उनकी अहमियत को पहचान सकें, और जब समझ आती है तब वक्त भी हाथ से निकल चुका होता है।


हम सब की life में यह हुवा है और शायद हो भी रहा है। लेकिन, आगे से ऐसा न हो या अभी भी वक्त को बेकार जाया होने से रोकना हो तो सिर्फ इतना करना होगा:


जो काम आपको आज करने की ज़रूरत हो और आज उसे आप कर भी सकते हो तो उसे आज ही कर लेना चाहिए, कल पर कभी नहीं छोड़ना चाहिए। क्योंकि, कल का क्या भरोसा! किसी का हो किसी का न हो! वक्त के साथ किया हुवा हर एक छोटा-बड़ा काम हमें future में 100 तो क्या 1000 गुना ज़्यादा result generate करके देता है। लेकिन वह कब? जब वक्त हमारे साथ हो तब। एक बार वक्त हाथ से फिसल जाए उसके बाद हम कितना भी अच्छा काम हम क्यों न कर लें इसकी कोई value नहीं करता। इसलिए आगे हम वक्त को ध्यान में रखकर किसी भी काम को करेंगे तो हम ज़रूर वह सफलता हासिल करेंगे जो हम चाहते है।


अगर इमारत गिर जाए बनने से पहले, तो उसमें construction में खामी है।

बेटे बाप सामने बोलें, तो उसमें परवरिश व शिक्षा की कमी है।

जिस देश में हम रहते है वह, राम व श्रवण जैसे मातृ-पितृ भक्त की पवन भूमि है दोस्तों; अगर यहां कोई अनहोनी हो तो समझना वाकई हमारे सिंचन में कोई कमी है।

बिल्कुल वैसे ही अगर वक्त के साथ हम आगे न बढ़ पाए तो समझना इस में और किसी की नहीं बल्कि हमारी निष्ठा में कमी है जिसे हम हमारे आलसीपन के अंदर दबाएं हुए है।


ज़मीन पर पग बनाएं रखकर आसमान को छुआ नहीं जा सकता, अगर आसमान को वाकही में छूना चाहते हो तो वक्ते साथ बने रहकर खुदको भी जमीन से ऊपर उठाना होगा।


"It's not easy to recognize the time, but if your attitude is to do something today and in this moment, then time will always be in your hands."


Special Thanks to Script writer of this amazing motivational blog content,

Mr. Sanjay Solanki

YouTube Channel: Solanki Sanjay.K


166 views0 comments

Comments


bottom of page