top of page
Search

जीवनमें कभी भी डर या अविश्वास पैदा हो तो ये ज़रूर करे। | Hindi blog to overcome fear

आपके अंदर का belief यानि विश्वास एक ऐसा factor है जो या तो आपके confidence को रोक सकता है या motivate कर सकता है।

आपकी एकाग्रता और आपकी यादें क्या कर सकती है, इस पर आपका कितना विश्वास है वो आपके confidence पर निर्भर होता है। कई लोग अपने अंदर की strength को कभी नहीं आज़माते क्योंकि उनका point of view सिर्फ एक छोटी सी limit तक ही होता है। कभी उन्हें अपने आप पर पूरा belief नहीं होता। ऐसे अद्भुत तरीके हैं जिनसे आप उन भयानक अविश्वास और डर को belief में बदल सकते हैं जो belief आपको आपके जीवन के goals तक पहुंचने की ताकत देते हैं। बस जब भी आपके अंदर अविश्वास या डर पैदा हो तब ये चार sentences को आपको याद करना है और बोलना है। जो है: • मैं उन्लीमिटेड memory और concentration के साथ इस दुनिया में आया हु। • अगर मेरी सोचने की क्षमता में खोट है तो उसे सुधारना बेहद ही ज़रूरी है। • मेरा mind बिलकुल ही limitless है, इस लिए इसे limit से ऊपर की सोच देनी होगी। • अगर में विफल होता हु तो कोई विफलता मेरा आखरी पड़ाव नहीं, बल्कि वह केवल एक ऐसा reaction है जो मेरी कमीओ को दिखाके उन्हें सुधार कर आगे बढनेका सबक देता है। जबभी आपको हारने का या असफल होने का डर सताने लगे तब ये चार sentences हंमेशा अपने आपसे कहे। ऐसा करने से आपका आत्मविश्वास हंमेशा बना रहेगा और आप बीना डरे अपने goal की तरफ आगे बढ़ते रहोगे।

“Beliefs have a great influence on the accomplishment of your goals.”

6 views0 comments

留言


bottom of page