top of page
Search

अच्छी Leadership maintain करने के लिए Meaning-making process |how to maintain leadership ?

अपने simple time में, किसी भी बात का विचार और चिंतन सावधानी से किया जाता है।

लेकिन जिस तरह का reflection एक leader के लिए वास्तव में किंमती होता है, वह उससे कहीं ज़्यादा बारीक होता है। सबसे उपयोगी reflection में सीखने के purpose के लिए सही mindset और कामों के प्रति सही विचार और उनका observation करना शामिल होता है।


सही विचारो का observation करना future की स्तिथि को समज़कर उनके अनुरूप कामों को decide करने में मदद कर सकता है। ऐसा करने को “meaning-making process” कहते है जो एक leader को उनके निरंतर progress के लिए important होती है।


Meaning-making process को कैसे किया जाए! उसके लिए इस तरह के कुछ सवालात है जो आप खुदसे पूछ कर खुदसे ही उनका जवाब पा कर meaning-making process तैयार कर सकते हो।


ये 5 तरह के सवाल खुदसे कीजिए:


• आप क्या टाल रहे हैं?

• आप as a leader अपने साथिओं को अपने लक्ष्य हासिल करने में कैसे मदद कर रहे हैं?

• आप अपने साथिओं को उनकी प्रगति में कैसे मदद कर रहे हैं या उन्हें कही रोक तो नहीं रहे?

• आप काम में अपने कम से कम अच्छे relations में कैसे योगदान दे सकते हैं?

• अपनी हर एक meetings में आप और ज़्यादा effective कैसे हो सकते हैं?


ये 5 सवाल आपको मददरूप होंगे अपने आपसे as a leader रूबरू होने में और आपकी leadership को और भी बहेतर बनाएंगे।

ज़्यादतर leaders को अपने आपको कैलेंडर के हिसाब से manage करते है। इसलिए, अपने आप से रूबरू होने के लिए daily एक time निर्धारित करें और फिर इसे regular maintain करते रहे। और अगर आप अपने आप को इसे छोड़ने या इससे बचने की कोशिश करते हैं, तो उस पर भी गहराई में सोचना शरू करें! की कहीं आप अपने आपसे दूर तो नहीं हो रहे! क्योंकि एक leader को हंमेशा अपने आपसे पूरी तरह वाकिफ होना उनका पहला rule होना चाहिए।


अपने लिए यह meaning-making process करने के लिए ज़्यादा नहीं तो daily सिर्फ 10 मिनट निकालने का प्रयास करें। अपने कामों में progress करने के लिए खुद को सही ढंग से establish करें।


हर बार इन सवालों से अपने आप में deep observation करें। साथ ही साथ अपने कामों को बहेतर बनाने के लिए कई अलग अलग methods बना कर उन पर विचार करें। जो things को आप शुरू से मानते आ रहे हैं उसके opposite sides को भी देखें। और इनका मंथन करते रहने की आदत डालें। आपको अपने सभी विचारों को पसंद या support नहीं करना है, बल्कि इन्हे बस deep thinking करे, और अपनी thinking को सही से observe करें। इससे आप उन्ही विचारो को पसंद कर अमलीकरण करोगे जिन्हे करना वाकही में ज़रूरी होगा।


ज़्यादतर leaders के लिए meaning-making process में, उनकी wishes, time , experience या काबिलियत की कमी दिख सकती है। इसके लिए, किसी अच्छे team member, अच्छे expert या coach के साथ काम करने पर विचार करें ताकि आप खुदके काम को maintain करने में मददरूप हो सके। ध्यान से सुनें, एक leader के साथ-साथ अच्छे thought partner भी बनें, और हर कामो में खुद ही जवाबदार रहें। तभी आप अपनी leadership को अच्छे से निखार कर बहेतर ढंग से manage कर पाओगे। और आपके साथी हंमेशा as a leader आपका सन्मान करते रहेंगे। और इसी process को निरंतर करते रहने से आप हंमेशा अपनी leadership बनाए रखेंगे।


“A leader is one who knows the way, goes the way, and shows the way.”

4 views0 comments

Comentários


bottom of page